Follow Us

हिंदी न्यूज़ – 2019 में मोदी की लोकप्रियता के आगे टिक नहीं पाएंगे सपा-बसपा_Anupriya Patel said SP BSP will not be able to stand before Modi popularity in 2019:


केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने अखिलेश यादव और मायावती पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनावों के लिए सपा-बसपा के बीच कोई भी समझौता दो ‘अवसरवादी’ लोगों के राजनीतिक रूप से प्रासंगिक बने रहने के लिये है. यह केवल “सीमित अवधि” की साझेदारी होगा और यह दोनों दलों के बीच गठबंधन नहीं होगा.

राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सहयोगी अपना दल की नेता अनुप्रिया पटेल को विश्वास है कि राजग 2019 में 2014 के लोकसभा चुनावों के अपने प्रदर्शन को दोहराएगी. 2014 के चुनाव में उत्तर प्रदेश में भाजपा के नेतृत्व वाले राजग को लोकसभा की 80 में से 73 सीटें मिली थीं, जिनमें अपना दल के दो सांसद शामिल थे.

SC/ST Act के विरोध में अखिल भारतवर्षीय ब्राह्मण समाज, कहा- वोट उसी को जो करेगा बदलाव

समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने पिछला आम चुनाव अलग-अलग लड़ा था. उन्होंने संकेत दिए हैं कि दोनों दल भाजपा से मुकाबला करने के लिए 2019 का आम चुनाव साथ मिलकर लड़ेंगे. अनुप्रिया पटेल ने मीडिया से कहा,

“उत्तर प्रदेश के प्रत्येक व्यक्ति को पता है कि सपा और बसपा मोदीजी को रोकने के लिए एक साथ आ रहे हैं. सपा-बसपा हमेशा एक-दूसरे के प्रतिद्वंद्वी रहे हैं.’’

सपा-बसपा गठबंधन की बातचीत को “अवसरवाद” बताते हुए उन्होंने कहा कि राज्य के लोग इस गठबंधन को स्वीकार नहीं करेंगे.टीचर्स भर्ती 2018: योगी के मंत्री,अधिकारी ही करा रहे सरकार की फजीहत!

“अवसरवादी हैं सपा-बसपा”
अनुप्रिया पटेल ने कहा कि इन दो दलों की पूरी राजनीति “एक-दूसरे के विरोध’’ पर आधारित है. उन्होंने कहा, “यह दो दलों का गठबंधन नहीं होगा बल्कि राजनीतिक रूप से प्रासंगिक बने रहने के लिये दो व्यक्तियों के बीच साझेदारी होगी. भाजपा और अपना दल के मुकाबले इन “दो अवसरवादियों” के बीच कोई तालमेल नहीं है”.

मायावती का नाम लिये बिना अनुप्रिया ने कहा कि गठबंधन में रहना बसपा के शीर्ष नेतृत्व के स्वभाव में नहीं है. उन्होंने यह भी दावा किया कि ये दोनों पार्टियां एक साथ 2019 का आम चुनाव लड़ सकती हैं, लेकिन अगले राज्य विधानसभा चुनावों में उनका साथ रहना लगभग असंभव है.

जानें, आखिर क्‍यों कुंवारे रह जा रहे हैं यूपी के इस गांव के लड़के!

मोदी के आगे टिक नहीं पाएंगी सपा-बसपा
अगले आम चुनावों में राजग की संभावनाओं पर एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कद के बराबर का कोई नेता नहीं है. केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने कहा, “यहां तक ​​कि सपा-बसपा गठबंधन भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता के आगे नहीं टिक पाएगा.” गोरखपुर, फूलपुर और कैराना लोकसभा सीटों के लिये हुए उपचुनाव में भाजपा नीत राजग को मिली हार के बारे में पूछे जाने पर मंत्री ने इसके लिये स्थानीय कारकों को जिम्मेदार ठहराया.

गोरखपुर-दिल्ली के लिए नई उड़ान सेवा शुरू, CM ने किया उद्घाटन

पिछले चार वर्षों में मोदी सरकार द्वारा उठाए गए विभिन्न कल्याणकारी कदमों का हवाला देते हुए, उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर से सांसद पटेल ने कहा कि लोगों ने उनके काम की सराहना की है. 2019 के लोकसभा चुनावों के मद्देनजर उत्तर प्रदेश राजग के लिये काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह लोकसभा में सबसे ज्यादा सांसद भेजता है.
(एजेंसी इनपुट के साथ)





Source link

The post हिंदी न्यूज़ – 2019 में मोदी की लोकप्रियता के आगे टिक नहीं पाएंगे सपा-बसपा_Anupriya Patel said SP BSP will not be able to stand before Modi popularity in 2019: appeared first on OSI Hindi News.



from Om Shree Infotech https://ift.tt/2Q3ab6b
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment

 
Copyright © 2013. News World - All Rights Reserved
Template Created by ThemeXpose | Published By Gooyaabi Templates