Most Popular

Saturday, September 29, 2018

हिंदी न्यूज़ – जोधपुर: आसाराम की सहयोगी शिल्‍पी की सजा स्‍थगित, हाईकोर्ट ने दिए रिहाई के आदेश Rajasthan high court Jodhpur has suspended sentence of Shilpi in Asharam Rape case


जोधपुर: आसाराम की सहयोगी शिल्‍पी की सजा स्‍थगित, हाईकोर्ट ने दिए छोड़ने के आदेश
आसाराम। फोटाे: न्यूज 18 राजस्थान
News18Hindi

Updated: September 29, 2018, 1:28 PM IST

नाबालिग के साथ यौन उत्पीड़न के सजायाफ्ता कैदी आसाराम के मामले में सह अभियुक्त शिल्पी उर्फ संचिता को शनिवार को राजस्थान हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है. न्यायाधीश विजय विश्नोई की अदालत ने शिल्पी की सजा स्थगित करते हुए उसे जमानत दे दी है. शिल्‍पी आसाराम के छिंदवाड़ा आश्रम में वार्डन थी. वह आसाराम की नजदीकी सहयोगी थी. पी‍ड़‍िता ने अारोप लगाया था कि बलात्‍कार की साजिश में शिल्‍पी भी शामिल थी.

शिल्पी उर्फ संचिता की ओर से राजस्थान हाईकोर्ट में अपील के बाद सजा स्थगन याचिका यानि एसओएस पेश की गई थी. इस पर बुधवार को ही जस्टिस विश्नोई ने सुनवाई पूरी कर फैसला सुरक्षित रखा था. सुनवाई के दौरान शिल्पी के अधिवक्ता ने तर्क दिया कि वह जमानत पर रही व जमानत के नियमों को नही तोड़ा. ऐसे में एसओएस यानी की सस्पेंसन ऑफ सेंटस का लाभ दिया जाना चाहिए. आसाराम मामले की सह अभियुक्त छिंदवाड़ा आश्रम की हॉस्टल वार्डन शिल्पी को SC- ST कोर्ट के पीठासीन अधिकारी मधुसूदन शर्मा ने इसी वर्ष 25 अप्रेल को 20 साल की कैद की सजा सुनाई थी.

यह भी पढ़ें: आसाराम की टीम का ये है प्लान, ‘बापू’ से पहले शिल्पी को निकालेंगे बाहर 

आसाराम पर अब तक सवा 7 करोड़ रुपए खर्च कर चुकी है सरकार! शिल्पी थी आसाराम की हनीप्रीत! बच्चियों को भेजती थी आश्रम

बुधवार को हुई थी सुनवाई पूरी
सजा के खिलाफ अपील दायर करने के बाद शिल्पी की ओर से सजा स्थगित कर जमानत पर रिहा करने बाबत हाईकोर्ट में ‘एसओएस’ अर्थात सस्पेंसन ऑफ सेंटेंस की याचिका दायर की गई थी. इस पर अंतिम सुनवाई बुधवार को पूरी हुई थी. शिल्पी की ओर से अधिवक्ता महेश बोडा ने पक्ष रखा, जबकि सुनवाई के दौरान राज्य सरकार की ओर से विक्रमसिंह राजपुरोहित ने इसका पुरजोर विरोध किया था. शिल्पी को जमानत मिलने के बाद अब आसाराम को भी जमानत की आस बंधी है. आसाराम की याचिका पर सुनवाई अभी होना बाकी है. शिल्पी अभी जोधपुर केंद्रीय कारागृह में बंद है. जमानत मिलने के बाद शनिवार शाम तक उसकी रिहाई होगी.

और भी देखें

Updated: September 23, 2018 04:10 PM ISTज़मीन के नीचे पानी होने पर नारियल के घूमने का वैज्ञानिक सच ये है





Source link

The post हिंदी न्यूज़ – जोधपुर: आसाराम की सहयोगी शिल्‍पी की सजा स्‍थगित, हाईकोर्ट ने दिए रिहाई के आदेश Rajasthan high court Jodhpur has suspended sentence of Shilpi in Asharam Rape case appeared first on OSI Hindi News.



0 comments:

Post a Comment