हिंदी न्यूज़ – अलीगढ़ एनकाउंटर: पंखुड़ी पाठक पर हुआ पथराव, पीड़ित परिवार से मिलने पहुंची थीं अलीगढ़  , Aligarh encounter, attack on pankhuri pathak, UP Police, AMU, BJP, Bajrang dal,


अलीगढ़ एनकाउंटर: पंखुड़ी पाठक पर हुआ पथराव, पीड़ित परिवार से मिलने पहुंची थीं अलीगढ़
फोटो- पुलिस की मौजूदगी में पंखड़ी पाठक के साथियों से होती मारपीट.
नासिर हुसैन

नासिर हुसैन

नासिर हुसैन

| News18Hindi

Updated: October 6, 2018, 6:02 PM IST

एनकाउंटर पीड़ित परिवार से मिलने अतरौली, अलीगढ़ पहुंची सपा की पूर्व प्रवक्ता पंखुड़ी  पाठक पर हमला हुआ है. कुछ लोगों को चोट आई है. तीन चार पहिया वाहन भी तोड़ दिए गए हैं. पंखुड़ी  पाठक का आरोप है कि पीड़ित परिवार की कुछ महिलाओं को भी गायब कर दिया गया है.

न्यूज18 हिन्दी से बातचीत में पंखुड़ी  पाठक ने बताया कि, ‘‘शनिवार दोपहर अलीगढ़ एनकाउंटर में मारे गए नौशाद और मुस्तकीम के परिवार से मिलने अतरौली गई थी. जब मैं अतरौली परिवार के घर के पास पहुंची तो वहां 40-50 लोग जो गले में भगवा गमछा डाले पहले से खड़े हुए थे.

वो बजरंग दल वाले मालूम हो रहे थे. ऐसा लग रहा था कि जैसे हमारे आने के बारे में उन्हें पहले से पता था. पीड़ित परिवार की तीन महिलाओं को पुलिस ने पहले ही गायब कर दिया था. इसी दौरान कुछ लोग और आ गए. उन्होंने गंदी भाषा का इस्तेमाल शुरु कर दिया.

फोटो- पंखुड़ी पाठक के साथियों संग होती मारपीट.

जब मैंने भाई कहते हुए उनसे बात करनी चाही तो उन्होंने हमला कर दिया. हमारे कई लोगों को चोट आई है. एक का सिर फट गया है. हमारी तीन कार तोड़ दी गईं. उन लोगों ने पथराव शुरु कर दिया. उनके हाथ में गन, चाकू और डंडे थे. वहां 10-12 सादा कपड़ों और वर्दी में पुलिस वाले भी खड़े हुए थे.

फोटो- पंखुड़ी पाठक के संग गए साथियों के कपड़े भी फाड़ दिए गए.

लेकिन वो शांत खड़े हुए थे. मेरे हाथ जोड़कर ये कहने पर कि वो लोग हमारे साथियों को मार देंगे उन्हें बचा लिजिए तब वो बीच में बोले. उसके बाद हम वहां से भाग लिए. मैंने 100 नम्बर पर पुलिस को भी सूचना दे दी है. थाने में भी बजरंग दल वाले इकट्ठा हो सकते हैं, इसीलिए मैं थाने नहीं गई और सीधे दिल्ली जा रही हूं.’’

फोटो- पुलिस को धकियाते हुए हमला करने के लिए आगे बढ़ते भगवाधारी.

इस बारे में सर्किल अफसर (सीओ), अतरौली प्रशांत सिंह का कहना है कि, ‘‘ पंखुड़ी  पाठक की ओर से थाने पर कोई सूचना नहीं दी गई है. 100 नम्बर पर हाथापाई की सूचना है. पथराव की बात गलत है. किसी के चोट नहीं आई है. सिर्फ गाड़ियों के शीशे टूटे हैं. महिलाएं गायब नहीं हैं उन्हें बयान दर्ज कराने के लिए कोर्ट ले जाया गया था.’’ क्या पुलिस घटनास्थल पर पहले से तैनात थी या नहीं इस सवाल को सुनने के बाद उन्होंने फोन काट दिया.

और भी देखें

Updated: October 06, 2018 03:34 PM ISTशराब पीने से मना करने पर दबंगों ने चाकुओं से गोदकर की युवक हत्या





Source link

The post हिंदी न्यूज़ – अलीगढ़ एनकाउंटर: पंखुड़ी पाठक पर हुआ पथराव, पीड़ित परिवार से मिलने पहुंची थीं अलीगढ़  , Aligarh encounter, attack on pankhuri pathak, UP Police, AMU, BJP, Bajrang dal, appeared first on OSI Hindi News.



Share:

Support